आयुर्वेद का अर्थ औषधि - विज्ञान नही है वरन आयुर्विज्ञान अर्थात '' जीवन-का-विज्ञान'' है

Followers

Monday, January 11, 2016

आपके अच्छे स्वास्थ्य के लिए



आजकल किडनी में इन्फेक्शन और  रीनल फेल्योर की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं। ऐसा कुछ भी आपके जीवन में न हो , इसके लिए आवश्यक है कि हम ऐसा काम करें जिससे हमारी किडनी पर  किसी भी इंफेक्शन  का असर ना हो उसका कार्य जिंदगी भर सुचारु रुप से चलता रहे.

 सबसे पहले यह आवश्यक है कि जब भी आप भोजन करें तो उसके बाद यूरिन डिस्चार्ज जरूर करें भोजन के बाद यूरिन डिस्चार्ज से  किडनी सही तरीके से काम करती रहती है और एक दूसरा उपाय और है उसको भी आप अवश्य करें हर सप्ताह में एक दिन कोई भी एक दिन निर्धारित करने उस दिन ककड़ी के बीजों का चूर्ण तीन ग्राम की मात्रा में तीन ग्राम चीनी मिलाकर के पानी के साथ निगल लीजिए।   सप्ताह में एक बार ऐसा करने से आप अपनी किडनी को सारी जिंदगी सुरक्षित रख सकेंगे।  किडनी पर इंफेक्शन का असर नहीं होगा और वह सही तरीके से काम करती रहेगी।  जिससे ना किडनी ट्रांसप्लांट की समस्या होगी न ही पथरी या प्रोस्टेट की। स्वास्थ्य की अक्सर समस्याएं सिर्फ इस वजह से पैदा होती है कि हम सुचारु रुप से मूत्र विसर्जन नहीं करते हैं क्योंकि यूरिन  डिस्चार्ज वह प्रमुख जरिया है जिसके माध्यम से हमारे शरीर का ज्यादातर विष  बाहर निकल जाता है।  यह विष , जो हम विभिन्न वस्तुओं के माध्यम से अपने शरीर में पहुंचाते  हैं।  इस विष  को  शरीर में संग्रहित करने से अच्छा है उसे यूरिन डिस्चार्ज के माध्यम से बाहर निकाला जाये।
























No comments: